Wednesday, April 11, 2012

जान ज़िंदगानी


मेरी जान ज़िंदगानी, तुम हो कहा बता दो
मै पास आकर तुझको, पहेलु में ले लूँगा
मै दीवाना हूँ तेरा, मुझे अपना तुम बना लो
मै होठों पर होठ रखकर हर साँस दे दूंगा
लव्ज़ो में ऐ जवानी कभी प्यार गुनगुना दो
मै मुहब्बत की गज़ल में जान भर दूँगा
तन्हा है अपनी रातें गर साथ तुम दे दो
बाहों में लेकर तुझको हर एहसास दे दूँगा
बेचैन दिल की हसरत अपना पता बता दो
तेरे लिए जानम मै यह दुनिया छोड़ ही दूँगा
मेरी जान ज़िंदगानी, तुम हो कहा बता दो
मै पास आकर तुझको, पहेलु में ले लूँगा

No comments:

Post a Comment